Menu Close

10th Maths MCQs | All Chapters Mix Objective Questions

Class 10th Maths All Chapters MCQs

1 / 150

रैखिक बहुपद की घात होती है

2 / 150

sin²20° + cos²20° का मान होगा :

3 / 150

यदि दो संकेन्द्रीय वृत्तों की त्रिज्याएँ क्रमश: 4 cm एवं 5 cm हैं तो बाह्य वृत्त की प्रत्येक वह जीवा जो अन्तः वृत्त की स्पर्श रेखा हो, की लम्बाई होगी :

4 / 150

स्पर्श बिन्दु से जाने वाली त्रिज्या स्पर्श रेखा पर ……… होती है।

5 / 150

Question Image

6 / 150

Question Image

7 / 150

x-अक्ष से बिन्दु P (2, 3) की दूरी है :

8 / 150

(0, 0), (3, 0), (0, 4) द्वारा बने त्रिभुज का क्षेत्रफल 12 इकाई है।

9 / 150

बाल्टी का आकार प्रायः एक …………. का होता है।

10 / 150

(sin 30° + cos 30°)-(sin 60° + cos 60°) का मान है:

11 / 150

सर्वांगसम वृत्तों की परिमाप सदैव बराबर होती है।

12 / 150

एक साथ घटित न होने वाली घटनाएँ …… घटनाएँ कहलाती हैं।

13 / 150

Question Image

14 / 150

यदि दो त्रिभुज समकोणिक हों तो त्रिभुज समरूप होंगे।

15 / 150

समरूप वृत्तों की परिमाप सदैव बराबर होती है।

16 / 150

रेखाएं प्रतिच्छेदी होती है

17 / 150

जब एक पासा फेंका जाता है तो 3 से कम विषम संख्या प्राप्त होने की प्रायिकता होगी :

18 / 150

ऊपर के किसी बिन्दु से नीचे के किसी बिन्दु को देखने के लिए दृष्टि रेखा को क्षैतिज से जितना नीचे की ओर घुमाना पड़ता है, वह कोण ………… कोण कहलाता है।

19 / 150

किसी AP में यदि a = 3.5, d = 0,n = 101, तब an का मान होगा :

20 / 150

एक थैले में 3 लाल और 5 काली गेंदें हैं। इस थैले में से एक गेंद यादृच्छया निकाली जाती है। इसकी प्रायिकता क्या है कि गेंद लाल हो?

21 / 150

सभी व्रत ……….. होते हैं

22 / 150

किसी बिन्दु की y-अक्ष से दूरी ………. कहलाती है।

23 / 150

tan (90° – θ) = cotθ

24 / 150

वह समीकरण निकाय क्या कहलाता है जिसका कोई हल ना हो

25 / 150

द्विघात बहुपद ax²+bx+c के शून्यको का गुणनफल होता है

26 / 150

tan (90° – θ)

27 / 150

एक त्रिभुज की एक भुजा के समानान्तर खींची गई रेखा अन्य दो भुजाओं को जिन दो बिन्दुओं पर प्रतिच्छेद करती है, वे बिन्दु उन भुजाओं को समान अनुपात में विभाजित करते हैं। यह प्रमेय किस नाम से जानी जाती है?

28 / 150

किसी घटना की प्रायिकता एक से अधिक भी हो सकती है।

29 / 150

किसी वृत्त के बाह्य बिन्दु से अधिकतम स्पर्श रेखाएँ खींची जा सकती हैं :

30 / 150

AP: 5, 8, 11, 14,……… का 10वाँ पद है:

31 / 150

दो गोलों के आयतनों का अनुपात 64 : 27 है तो उनके पृष्ठीय क्षेत्रफलों का अनुपात होगा :

32 / 150

एक सिक्के को उछालने पर चित आने की प्रायिकता होगी :

33 / 150

जिस समीकरण का आलेख एक सरल रेखा हो क्या कहलाता है

34 / 150

tan 45° का मान होगा:

35 / 150

तीन सरेखीय बिन्दुओं से बने त्रिभुज का क्षेत्रफल ………… है।

36 / 150

गिल्ली-डंडा खेल की गिल्ली संयुक्त आकृति होती है निम्न की :

37 / 150

वह समीकरण निकाय क्या कहलाता है जिसका कोई हल हो

38 / 150

एक वृत्त की कितनी समान्तर स्पर्श रेखाएँ हो सकती हैं?

39 / 150

पेड़ की छाया, उसकी ऊँचाई के बराबर है। सूर्य का उन्नयन कोण होगा :

40 / 150

समीकरण (x2 + 1)2 – x2 = 0 के होते हैं:

41 / 150

वह अनुक्रम जिसका प्रत्येक पद अपने पूर्ववर्ती पद से एक निश्चित अन्तर रखता है ………. कहलाता है।

42 / 150

सभी सम्भव प्रायिकताओं का योग सदैव ……. होता है।

43 / 150

52 पत्तों की गड्डी में से एक पत्ता यादृच्छया खींचा जाता है। घटना E पान का इक्का नहीं होने की घटना है तो E के अनुकूल घटनाओं की संख्या होगी :

44 / 150

दो त्रिभुज समरूप होंगे, यदि :

45 / 150

घनाभ के आयतन का सूत्र है?

46 / 150

cosec (75° + θ) – sec (15° – θ)]- tan (55° + θ) + cot (35° – θ) का मान है :

47 / 150

मूल बिन्दु से बिन्दु P(-6, 8) की दूरी है :

48 / 150

6 और 20 का HCF होगा

49 / 150

यदि मीनार की ऊँचाई एवं छाया की लम्बाई समान हो, तो सूर्य के उन्नयन कोण का मान होगा :

50 / 150

द्विघात बहुपद ax²+bx+c के शून्यको का योगफल होता है

51 / 150

2x2 – 7x + 6 = 0 का मूल है?

52 / 150

tan49°=cot41°

53 / 150

sin 12° cos 78° + cos 12° sin 78° = 2

54 / 150

रैखिक बहुपद की घात 2 होती है

55 / 150

एक भवन के पास से 25 मीटर की दूरी से भवन के शिखर का उन्नयन कोण 45° है, तो भवन की ऊँचाई …………. होगी।

56 / 150

बिन्दु (-4, 0), (4, 0) एवं (0, 3) शीर्ष हैं :

57 / 150

x2 – 4x + 32–√ = 0 के मूल

58 / 150

सर्वाधिक बारम्बारता वाला वर्ग क्या कहलाता है?

59 / 150

Question Image

60 / 150

sin²20° + cos²20° का मान होगा :

61 / 150

त्रिघात बहुपद के कितने शून्यक होंगे?

62 / 150

प्रत्येक प्राकृत संख्या पूर्ण संख्या होती है

63 / 150

यदि cos 9α = sin α एवं 9α. < 90°, तब tan 5α का मान होगा :

64 / 150

Question Image

65 / 150

समकोण त्रिभुज में कर्ण सबसे बड़ी भुजा होती है।

66 / 150

नीचे खड़े रहकर ऊपर की ओर देखने के लिए दृष्टि रेखा को क्षैतिज से जितना ऊपर की ओर घुमाना पड़ता है, वह कोण ……….. कहलाता है।

67 / 150

किसी बाह्य बिन्दु से वृत्त पर खींची गई स्पर्श रेखाएँ परस्पर होती हैं :

68 / 150

√2 एक परिमेय संख्या है

69 / 150

a³ किसका आयतन होता है:

70 / 150

sin θ / cosθ का मान

71 / 150

एक AP का प्रथम पद -2 और सार्वान्तर – 2 है के प्रथम चार पद होंगे :

72 / 150

क्षैतिज तल से ऊपर की ओर देखने पर दृष्टि रेखा क्षैतिज रेखा के साथ अवनमन कोण बनाती है।

73 / 150

-x2 + 3x – 3 = 0 के मूलों का योग है?

74 / 150

किसी बिन्दु की x-अक्ष से दूरी ……….. कहलाती है।

75 / 150

एक पेड़ की छाया 20√3 मीटर है। यदि पेड़ की ऊँचाई 20 मीटर हो, तो सूर्य का उन्नयन कोण होगा:

76 / 150

एक सिरे पर छीली गई एक बेलनाकार पेन्सिल एक संयुक्त आकृति है:

77 / 150

किसी वृत्त पर कितनी स्पर्श रेखाएँ खींची जा सकती हैं?

78 / 150

………. त्रिभुज सदैव समरूप होते हैं।

79 / 150

चर के वे मान जिनको बहुपद में प्रतिस्थापित करने पर बहुपद का मान शून्य हो जाता है, कहलाता है

80 / 150

स्पर्श रेखा और वृत्त के उभयनिष्ठ बिन्दु को क्या कहते हैं?

81 / 150

एक समान्तर श्रेढ़ी का प्रथम पद a तथा सार्वान्तर d हो तो उसका nवाँ पद ………… होगा।

82 / 150

किसी AP में यदि d = -4,n = 7 एवं an = 4 तो a है :

83 / 150

शंकु का वक्र पृष्ठ

84 / 150

एक पासे को फेंकने पर उसके फलक पर 5 आने की प्रायिकता शून्य (0) होती है।

85 / 150

वृत्त के अनुदिश एक बार चलने में तय की गई दूरी उस वृत्त की ………… कहलाती है।

86 / 150

किसी असम्भव घटना की प्रायिकता ……… होती है।

87 / 150

समीकरण x+2y+5=0 और -3x-6y+1=0 का हल होगा

88 / 150

sin² 40° + cos² 40° का मान है :

89 / 150

रेखाएं संपाती होती है

90 / 150

एक ठोस को दूसरे ठोस में परिवर्तित करने पर नए ठोस का आयतन :

91 / 150

एक वृत्त के व्यास d एवं त्रिज्या r में क्या सम्बन्ध है?

92 / 150

…………….. = 3 x माध्यक – 2 x माध्य

93 / 150

समरूपता के लिए आवश्यक प्रतिबन्ध है :

94 / 150

x2 + x – 5 = 0 के मूल

95 / 150

वृत्तीय क्षेत्र का वह भाग जो जीवा और संगत चाप से परिबद्ध हो उस वृत्त का ………… कहलाता है।

96 / 150

बिन्दु A (0, 6) एवं B (0, – 2) के बीच दूरी है :

97 / 150

किसी पूर्णांक m के लिए प्रत्येक सम पूर्णांक का रूप होगा

98 / 150

समरूप वृत्तों के क्षेत्रफल सदैव बराबर होते हैं।

99 / 150

घात 2 के बहुपद द्विघात बहुपद कहलाते हैं

100 / 150

Question Image

101 / 150

(13πr²h ) घन सेमी. किसका सूत्र है:

102 / 150

समान्तर श्रेढ़ी के पद सदैव बढ़ते क्रम में होते हैं।

103 / 150

Question Image

104 / 150

(4,0) एवं (0, 3) के बीच दूरी 5 इकाई है।

105 / 150

यदि धूप में खड़े एक व्यक्ति की छाया उसकी ऊँचाई की √3 गुना हो, तो उस समय सूर्य का उन्नयन कोण होगा :

106 / 150

सभी वर्ग समरूप होते हैं।

107 / 150

Question Image

108 / 150

n²-1, 8 से विभाज्य होगा यदि n है

109 / 150

AP: 10, 7, 4……… का 10वाँ पद है

110 / 150

वर्ग समीकरण में ax2 + bx + c = 0 के लिए D = b2 – 4ac कहलाता है?

111 / 150

घात 2 के बहुपद के अधिक से अधिक दो शून्यक हो सकते है

112 / 150

प्रत्येक पूर्णांक प्राकृत संख्या होती है

113 / 150

“एक समकोण त्रिभुज में कर्ण का वर्ग अन्य दो भुजाओं के वर्गों के योगफल के बराबर होता है।” यह कथन है:

114 / 150

यदि sin A = 1/2, तब cot A का मान होगा :

115 / 150

वर्ग समीकरण के अनेक हल हो सकते हैं।

116 / 150

वह रेखा क्या कहलाती है जो हमारी आँख से सीधे भूमि के समानान्तर जाती है?

117 / 150

द्विघात बहुपद में बहुपद की घात होगी

118 / 150

यदि किसी घटना की प्रायिकता p है तो इसकी पूरक घटना की प्रायिकता होगी :

119 / 150

Question Image

120 / 150

प्रत्येक परिमेय संख्या वास्तविक संख्या होती है

121 / 150

किसी पूर्णांक q के लिए प्रत्येक विषम पूर्णांक का रूप होगा

122 / 150

(cosec 90° – θ) का मान ………… होगा।

123 / 150

cos (90° – θ)

124 / 150

वर्ग समीकरण 2x2 – 5–√x + 1 = 0 के होते है:

125 / 150

πr(r+ l) वर्ग सेमी.  किसका सूत्र है:

126 / 150

वह रेखा जो हमारी आँख से वस्तु को जिसे हम देख रहे हैं, जोड़ती है, दृष्टि रेखा कहलाती है।

127 / 150

sin (90° – θ) का मान है :

128 / 150

sin 30°=1

129 / 150

रेखाएं समांतर होती है

130 / 150

(sin 45° + cos 45°) का मान है :

131 / 150

समान्तर श्रेढ़ी के किसी पद का उसके पूर्ववर्ती पद में अन्तर ………… कहलाता है।

132 / 150

(-4, 6) एवं (4,-6) के मध्य-बिन्दु के निर्देशांक (4, 6) हैं।

133 / 150

3 के प्रथम पाँच गुणकों का योग है :

134 / 150

sin (45° + θ) – cos (45° – θ) का मान है :

135 / 150

संचयी बारम्बारता सारणी की आवश्यकता माध्यक का परिकलन करने में होती है।

136 / 150

96 और 404 का HCF होगा

137 / 150

sin² θ + cos² θ = – 1

138 / 150

एक वृत्तीय क्षेत्र का वह भाग जो दो त्रिज्याओं और संगत चाप से घिरा (परिबद्ध) हो उस वृत्त का एक ………….. कहलाता है।

139 / 150

द्विघात बहुपद के केवल एक शून्यक हो सकता है

140 / 150

एक वृत्त के व्यास d एवं परिधि में क्या सम्बन्ध है?

141 / 150

किसी वृत्त को केवल एक बिन्दु पर प्रतिच्छेद करने वाली रेखा क्या कहलाती है।

142 / 150

Question Image

143 / 150

वर्ग समीकरण (x – 4) (x -3) = 0 में मूल ………………… होंगे।

144 / 150

सर्वांगसम वृत्तों के क्षेत्रफल सदैव बराबर होते हैं।

145 / 150

यदि 60° कोण पर झुकी दो स्पर्श रेखाएँ 3 cm त्रिज्या वाले वृत्त पर खींची जाती है तो प्रत्येक स्पर्श रेखा की लम्बाई बराबर है :

146 / 150

HCF(a,b) X LCM(a,b)=

147 / 150

बाह्य बिन्दु से वृत्त पर खींची गयी स्पर्श रेखाएँ केन्द्र पर ……… कोण अन्तरित करती हैं।

148 / 150

किसी वर्ग समीकरण में अधिकतम ………………… मूल होते हैं।

149 / 150

सभी वर्ग ……….. होते हैं।

150 / 150

वृत्त की परिधि के मध्य घिरे हुए क्षेत्र की माप उस वृत्त का ………… कहलाता है।

Your score is

0%

Share This

इन्हे ‌‌भी पढ़े

error: Content is protected !!